सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

disclaimer

desclimer

शायरी महल शायरी ग़ज़ल के लिए अस्वीकरण
यदि आपको किसी भी अधिक जानकारी की आवश्यकता है या हमारी साइट के अस्वीकरण के बारे में कोई प्रश्न है, तो कृपया Ks3431340@gmail.com पर ईमेल द्वारा हमसे संपर्क करने के लिए स्वतंत्र महसूस करें

शायरी महल के लिए अस्वीकरण
इस वेबसाइट पर सभी जानकारी - https://www.shyrimahal.space - सद्बुद्धि में और सामान्य सूचना उद्देश्य के लिए ही प्रकाशित किया जाता है। शायरी महल इस जानकारी की पूर्णता, विश्वसनीयता और सटीकता के बारे में कोई वारंटी नहीं बनाता है। इस वेबसाइट (शायरी महल) पर आपजो भी जानकारी पाते हैं, उस पर आप जो भी कार्रवाई करते हैं, वह सख्ती से आपके जोखिम पर होती है । शायरी महल हमारी वेबसाइट के उपयोग के संबंध में किसी भी नुकसान और/या नुकसान के लिए उत्तरदायी नहीं होगा ।
desclimer
हमारी वेबसाइट से, आप ऐसी बाहरी साइटों के हाइपरलिंक का पालन करके अन्य वेबसाइटों पर जाएंगे। जब तक हम उपयोगी और नैतिक वेबसाइटों के लिए केवल गुणवत्ता लिंक की आपूर्ति करने का प्रयास करते हैं, तो हमारा उन साइटों की सामग्री और प्रकृति पर कोई नियंत्रण नहीं है। अन्य वेबसाइटों के ये लिंक इन साइटों पर पाई जाने वाली सभी सामग्री के लिए सिफारिश का संकेत नहीं देते हैं। साइट मालिकों और सामग्री अचानक बदल सकते हैं और इससे पहले कि हम एक लिंक है जो 'बुरा' हो सकता है से छुटकारा पाने का मौका है हो जाना चाहिए।
desclimer
कृपया यह भी जानलें कि एक बार जब आप हमारी वेबसाइट छोड़ देते हैं, तो अन्य साइटों में अलग-अलग गोपनीयता नीतियां और शर्तें हो सकती हैं जो हमारे नियंत्रण से बाहर हैं। कृपया किसी भी व्यवसाय में शामिल होने या किसी भी जानकारी को अपलोड करने से पहले उन साइटों की गोपनीयता नीतियों को उनके "सेवा की शर्तें' के रूप में भी देखने के लिए कुछ करें।
desclimer
सहमति
हमारी वेबसाइट का उपयोग करके, आप इसके द्वारा हमारे अस्वीकरण के लिए सहमति और अपनी शर्तों का पालन करें ।

अद्यतन
क्या हमें वर्तमान दस्तावेज में कोई परिवर्तन करने, संशोधित करना चाहिए या करना चाहिए, उन परिवर्तनों को यहां प्रमुखता से पोस्ट किया जा रहा है ।

टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

राह ऐ मंझिल.........2 line shayari,

कदम डगमगा गये  राह ऐ  मंझिल पर चलते चलते 


कदम डगमगा गये  राह ऐ  मंझिल पर चलते चलते ।साथ किया टूटा हर राह पराये लगने लगे ,


Tag
2 line Shayari in English 2 line Shayari attitude 2 line Shayari on life
2 line Shayari romantic

मोह्हबत की शिद्धत से-------2 line shayari

मोह्हबत की शिद्धत से पर अछि तकदीर न पायी


मोह्हबत की शिद्धत से पर अछि तकदीर न पायी,तेरे  साथ कोई गैर  साथ मेरी आलम इ तन्हाई,



Tag
2 line Shayari in English 2 line Shayari attitude 2 line Shayari on life 2 line Shayari romantic

मोहोब्बत क्या है कहसे कहे, जालिम ज़माने को,,--------Hindi Shayari, sad Shayari,

मोहोब्बत क्या है कहसे  कहे, जालिम ज़माने को,यह  वो जज़्बा ए जूनून है ख़ुद को आजमाने को,
नारी नाज़ुक है चंचल शोख अदाए  मासूमियत भारी,समझ जाओ  ज़ामने वालो मज़ूर न करो  टूट  जाने  को,
आये हो जहांन मैं तो मुहब्बत जरूर कर लेना ,बन जाना किसी का  हमसफ़र उसे  मंज़िल तक पाहुंचे को,
जोडिया बनाइ जाती  है आसमनो मैं रब की रजा है ,इश्क़ रब ने भी किया फ़िर कियों मारते पत्थर  दीवाने को,
किसी हकदार  ऐ  दिल  के लिए सारी उम्र  गुज़ार लेगा जीतपुरी शिद्दत और  इमान से निबाहुंगा उसे  अपना बनाने  को,

tag-
hindi shayari collection hindi shayari sad hindi shayari love hindi shayari love sad